NEET यूजी परीक्षा: परीक्षा केंद्र पर जाने से पहले पढ़ लें ये नियम, एनटीए ने जारी किए हैं ड्रेस कोड को लेकर ये निर्देश

0
Share

 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा रविवार को आयोजित होने जा रही NEET यूजी परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के लिए कई नियम जारी किए गए हैं. साथ ही इन नियमों का सख्ती से पालन कराने की भी तैयारी की गई है. इन नियमों में परीक्षा के दौरान कपड़े, जूते, चप्पल और सैंडल पहनने से लेकर परीक्षा के समय में टॉयलेट जाने तक का नियम निर्धारित किया गया है.

 

अगर छात्र इन नियमों का पालन नहीं करते हैं तो उनको परीक्षा के दौरान असुविधा का सामना करना पड़ सकता है. एनटीए इन सभी नियमों की जानकारी अपनी वेबसाइट exams.nta.ac.in पर प्रकाशित किया है. परीक्षा का आयोजन दोपहर दो बजे से 5.20 बजे तक होगा. एनटीए के अनुसार परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को फुल बाजू की शर्ट, कुर्ता या किसी भी तरह की धार्मिक पोशाक पहनकर जाने की अनुमति नहीं है. परीक्षा केंद्र पर छात्र सिर्फ आधे बाजू की शर्ट या आधे बाजू का कुर्ता पहनकर ही जा सकते हैं.

इसके अलावा छात्रों को परीक्षा केंद्र पर जूते पहन कर जाने की अनुमति नहीं है. छात्र चप्पल और छात्राएं कम ऊंची हील की सैंडल या चप्पल पहनकर जा सकती हैं. अगर किसी अभ्यर्थी को अपने स्वास्थ्य की समस्या के कारण ड्रेस कोड में बदलाव करना पड़ रहा है तो उसका उचित कारण भी उसे एनटीए को बताना होगा. अगर कोई धार्मिक पोशाक पहनकर परीक्षा केंद्र पर जाता है तो उसे परीक्षा के निर्धारित समय 12:30 बजे से करीब एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा, जिससे कि उसकी अच्छी तरह से जांच हो सके.

 

एनटीए के निदेशक सुबोध कुमार सिंह का कहना है कि निष्पक्ष परीक्षा कराना और परीक्षा की गरिमा को बनाए रखना हमारी प्राथमिकता है. इसलिए हमने समय रहते सभी अभ्यर्थियों के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं. साथ ही उन दिशा निर्देशों को एनटीए की वेबसाइट पर भी डाल दिया है. इन सभी 20 तरह के प्रतिबंधित तरीकों को छोड़कर नियमानुसार परीक्षा केंद्र पर जाने की तैयारी करके ही परीक्षा केंद्र पर आएं.

इसके अलावा छात्रों को परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे बाद और परीक्षा खत्म होने के आधे घंटे पहले तक टॉयलेट भी जाने की अनुमति नहीं मिलेगी.अगर छात्र नियमों का पालन नहीं करते हैं तो परीक्षा केंद्र पर उन्हें असुविधा का सामना करना पड़ सकता है. छात्रों को परीक्षा देने से रोका भी जा सकता है. बता दें कि नीट यूजी परीक्षा के लिए देश भर से 24 लाख छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है. इससे साफ है कि यह एक बहुत ही बड़ी परीक्षा है.

परीक्षा कक्ष में ये चीजें ले जाने की होगी अनुमति

 

पानी की ट्रांसपेरेंट बोतल और एडमिट कार्ड.

अटेंडेंस शीट पर लगाने के लिए एक फोटो जो आवेदन फॉर्म में लगाई थी .

एक फोटो आईडी कार्ड (आधार कार्ड, वोटर कार्ड, डीएल आदि).

सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्म और एडमिट कार्ड की फोटोकॉपी.

 

 

 

 

About The Author

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *