Agniveer Death: चौथे अग्निवीर की श्रीनगर में संदेहास्पद परिस्थितियों में गोली लगने से मौत

0
Share

सेना के अधिकारियों का कहना है कि पैराट्रूपर अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की मौत की सही वजह जानने के लिए जांच बैठा दी गई है। जितेंद्र की गुरुवार को श्रीनगर में गोली लगने से मौत हो गई थी। उनका अंतिम संस्कार राजस्थान के अलवर जिले में उनके पैतृक गांव में किया गया है।

विस्तार

भारतीय सेना ने पैराट्रूपर अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की मौत की सही वजह जानने के लिए जांच शुरू कर दी है। अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की गुरुवार को गोली लगने से मौत हो गई थी। पैराट्रूपर तंवर 3 पैरा स्पेशल फोर्स बटालियन में तैनात थे। 23 वर्षीय जितेंद्र साल 2022 में बतौर अग्निवीर सेना में भर्ती हुए थे। जितेंद्र के परिजनों का कहना है कि आतंकी सर्च ऑपरेशन के दौरान गोली लगने से उसकी मौत हुई है। अग्निपथ स्कीम लॉन्च होने के बाद से यह चौथे अग्निवीर की मौत है।

 

Agniveer Death: चौथे अग्निवीर की श्रीनगर में संदेहास्पद परिस्थितियों में गोली लगने से मौत, सेना ने बैठाई जांच

सेना के अधिकारियों का कहना है कि पैराट्रूपर अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की मौत की सही वजह जानने के लिए जांच बैठा दी गई है। जितेंद्र की गुरुवार को श्रीनगर में गोली लगने से मौत हो गई थी। उनका अंतिम संस्कार राजस्थान के अलवर जिले में उनके पैतृक गांव में किया गया है।

 

विस्तार

भारतीय सेना ने पैराट्रूपर अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की मौत की सही वजह जानने के लिए जांच शुरू कर दी है। अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की गुरुवार को गोली लगने से मौत हो गई थी। पैराट्रूपर तंवर 3 पैरा स्पेशल फोर्स बटालियन में तैनात थे। 23 वर्षीय जितेंद्र साल 2022 में बतौर अग्निवीर सेना में भर्ती हुए थे। जितेंद्र के परिजनों का कहना है कि आतंकी सर्च ऑपरेशन के दौरान गोली लगने से उसकी मौत हुई है। अग्निपथ स्कीम लॉन्च होने के बाद से यह चौथे अग्निवीर की मौत है।

सेना ने बैठाई जांच 
सेना के अधिकारियों का कहना है कि पैराट्रूपर अग्निवीर जितेंद्र सिंह तंवर की मौत की सही वजह जानने के लिए जांच बैठा दी गई है। जितेंद्र की गुरुवार को श्रीनगर में गोली लगने से मौत हो गई थी। उनका अंतिम संस्कार राजस्थान के अलवर जिले में उनके पैतृक गांव में किया गया है। सेना के सूत्रों का कहना है कि घटना श्रीनगर में हुई, जहां जितेंद्र तंवर की तैनाती थी। गोली लगने की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं है, जिसके चलते अभी सेना के अधिकारी मामले की जांच में जुटे हैं।

ये है परिजनों का दावा
सेना के सूत्रों का कहना है कि शोक संतृप्त परिवार के साथ उनकी पूरी संवेदना है और मामले की गहन जांच के बाद ही पूरी स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। उनका कहना है कि स्थानीय मीडिया की तरफ से ही यह बताया जा रहा है कि सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों की तरफ से फायरिंग होने पर अग्निवीर जितेंद्र की मौत हुई है। यह सही है कि उनकी मौत गोली लगने से हुई है, लेकिन किसी ऑपरेशन में नहीं हुई है। मामला संदेहास्पद है, जिसकी वजह से मामले की गहन जांच की जा रही है। रिपोर्टेस के मुताबिक जितेंद्र के घरवालों का कहना है कि उन्हें गुरुवार दोपहर जयपुर से सूचना मिली कि जितेंद्र की सिर में गोली लगने से मौत हो गई है। जिसके बाद उन्होंने आर्मी बटालियन श्रीनगर से संपर्क किया तो उन्हें बताया गया कि सर्च ऑपरेशन के दौरान जम्मू-कश्मीर के पुंछ इलाके में आतंकी मुठभेड़ में जितेंद्र की मौत हुई।

About The Author

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *