सलमान खान फायरिंग मामला: बंदूक की तलाश में सूरत पहुंची मुंबई क्राइम ब्रांच, तापी नदी में चलाया गया सर्च ऑपरेशन

0
Share

 

सलमान खान के घर पर फायरिंग मामले में मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम सूरत पहुंच गई है. क्राइम ब्रांच की टीम तापी नदी में बंदूक की तलाश कर रही है. सूत्रों ने बताया कि इस गोलीबारी में आरोपियों द्वारा इस्तेमाल की गई बंदूक की तलाश के लिए मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम सूरत पहुंच गई है. पूछताछ में आरोपियों ने क्राइम ब्रांच को बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद उन्होंने बंदूक को सूरत की एक बड़ी नदी में फेंक दिया था.

क्राइम ब्रांच की टीम सूरत में तलाश कर रही है. स्थानीय प्रशासन की मदद से गोताखोरों की व्यवस्था की गयी है. एनकाउंटर स्पेशलिस्ट दया नाइक क्राइम ब्रांच यूनिट 9 के प्रभारी हैं. वह अपनी टीम के साथ गुजरात पहुंच गए हैं. आपको बता दें कि सलमान खान गोलीकांड मामले में मुंबई क्राइम ब्रांच ने पिछले शनिवार को लॉरेंस बिश्नोई और अनमोल बिश्नोई को आरोपी बनाया था और मामले में कई नई धाराएं जोड़ी थीं. मुंबई क्राइम ब्रांच जल्द ही अनमोल बिश्नोई के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करने की तैयारी कर रही है।

अनमोल बिश्नोई गोलीकांड का मास्टरमाइंड है

बता दें कि इस फायरिंग कांड का मास्टरमाइंड अनमोल बिश्नोई है और वह फिलहाल विदेश में है. इसके अलावा क्राइम ब्रांच साबरमती जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई की हिरासत की मांग को लेकर कोर्ट में अर्जी दाखिल करने की तैयारी कर रही है. इन दोनों को सलमान खान गोलीकांड मामले में वांछित आरोपी बनाने के बाद मुंबई क्राइम ब्रांच दोनों ऑपरेशन में शामिल है.

 

लॉरेंस बिश्नोई को वांछित घोषित किया गया

सलमान खान के घर के बाहर हुई गोलीबारी की घटना के बाद मुंबई पुलिस ने इस मामले में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके छोटे भाई अनमोल बिश्नोई को वांछित घोषित कर दिया है। पुलिस ने बताया कि इस मामले में गिरफ्तार विक्की गुप्ता और सागर पाल को बिश्नोई बंधुओं से निर्देश मिल रहे थे. आपको बता दें कि 14 अप्रैल की सुबह मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने फिल्म अभिनेता सलमान खान के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट पर फायरिंग की थी. इसके बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

 

 

About The Author

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *