कांग्रेस ने बनाई विरोधियों को घेरने की रणनीति, वारिंग ने ‘न्याय पत्र’ में गिनाए किसानों को दिए वादे, उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा

0
Share

 

लोकसभा चुनाव को लेकर चंडीगढ़ में कांग्रेस की बैठक हुई. प्रदेश अध्यक्ष अमरेंद्र सिंह राजा वारिंग और विधानसभा क्षेत्र प्रभारी देवेंद्र यादव के नेतृत्व में हुई बैठक में संभावित उम्मीदवारों के नामों पर फिर से मंथन हुआ. इसके बाद अमरेंद्र सिंह राजा वारिंग और सीएलपी नेता प्रताप सिंह बाजवा ने मीडिया से बातचीत की. उन्होंने कांग्रेस के इस फैसले को पंजाब के हित में बताया.

राजा वारिंग ने कहा कि न्यायिक पत्र में एमएसपी की कानूनी गारंटी का जिक्र किया गया है और कर्ज के लिए एक आयोग बनाने की भी घोषणा की गई है. फसल नुकसान होने पर 30 दिन के अंदर किसानों के खाते में मुआवजा डाल दिया जाएगा.

 

 

पंजाब कांग्रेस इस समय कई समस्याओं से जूझ रही है। पहले तो कई नेताओं ने पार्टी को अलविदा कह दिया है. अब उम्मीदवारों की घोषणा होनी है. लेकिन कांग्रेस को यह भी डर है कि इसका असर कई विधानसभा क्षेत्रों में देखने को मिलेगा. हाल के दिनों में कांग्रेस के कई नेताओं ने पार्टी छोड़ दी है.

 

इसमें पूर्व सीएम बेअंत सिंह के पोते सुनील जाखड़ और लुधियाना से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू भी शामिल हैं. ऐसे में पार्टी किसी भी तरह का जोखिम लेने के मूड में नहीं है. वहीं अगर अन्य पार्टियों की बात करें तो बीजेपी ने छह और आप ने नौ सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की है. वहीं अकाली दल ने भी अभी तक उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है. उधर, पार्टी नेताओं का कहना है कि जल्द ही टिकटों की घोषणा कर दी जाएगी।

About The Author

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *