कांग्रेस कैसे जीतेगी हरियाणा विधानसभा चुनाव, विपक्षी दल भाजपा को परास्त करने की बजाय आपस मे ही एक दूसरे को नीचा दिखा रहे हैं कांग्रेसी !

0
Share

 

चंडीगड़ ;- कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और सिरसा से सांसद कुमारी सैलजा के हरियाणा कांग्रेस नेतृत्व और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधने को लेकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष चौधरी उदयभान ने पलटवार किया है। उदयभान ने कड़े तेवर दिखाते हुए कहा कि अगर कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में कमजोर प्रत्याशी उतारे हैं, तो इसके लिए सबसे पहले कुमारी सैलजा ही दोषी हैं। वह पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव हैं, कांग्रेस वर्किंग कमेटी की सदस्य हैं और वह टिकट आवंटन की बैठक में मौजूद थीं। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व के फैसलों पर टीका-टिप्पणी करना किसी भी नेता के लिए उचित नहीं है। कुमारी सैलजा को हाईकमान के सामने अपनी बात रखनी चाहिए। अगर कोई बड़ा नेता ऐसे बयान देता है तो पार्टी के निचले कार्यकर्ताओं तक गलत मैसेज जाता है। कुमारी सैलजा को अनुशासनहीनता के चलते नोटिस देने के सवाल पर चौधरी उदयभान ने कहा कि वे पार्टी की वरिष्ठ नेता हैं, प्रदेशों की प्रभारी रही हैं, वह मेरे से बाहर हैं। मैं उनको क्या नोटिस दूंगा, वह मेरी पावर में नहीं हैं। मैं तो प्रार्थना कर सकता हूं, ऐसे बयानों से कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटता है। उदयभान ने कहा कि कुमारी सैलजा के विषय में मुझे कोई बात करनी होगी तो कांग्रेस नेतृत्व से करूंगा न कि सार्वजनिक मंच पर। गौरतलब है कि कुमारी सैलजा शुरू से ही पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधती रही हैं। टिकट आवंटन से लेकर संगठन नहीं बनाने को लेकर सैलजा सवाल उठाती रही हैं। किरण चौधरी के पार्टी छोड़ने के सवाल पर उदयभान ने कहा कि अगर कोई घरवाला विश्वासघाती हो तो वह चला जाए यही ठीक है। पहले के मुकाबले कांग्रेस पार्टी मजबूत हुई है। दूसरे दलों से 42 वरिष्ठ नेता कांग्रेस में शामिल हुए हैं, इनमें कई पूर्व सांसद, विधायक व पूर्व विधायक हैं। इन लोगों से पार्टी मजबूत हुई है जिसका परिणाम लोकसभा चुनाव में देखने को मिला है। वहीं, कांग्रेस संगठन के गठन पर उन्होंने कहा कि हमारा बेहतरीन काम चल रहा है, जैसी आवश्यकता

होगी उसके मुताबिक काम करेंगे।

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *