स्पेशल सेल ने चलाया गैंगस्टरों के खिलाफ ऑपरेशन, 200 सोशल मीडिया अकाउंट्स बंद, कई लोग गिरफ्तार

0
Share

 

गैंगस्टर्स के सोशल मीडिया अकाउंट से प्रभावित होकर युवा अपराधी बन रहे हैं। इस पर लगाम लगाने के लिए दिल्ली पुलिस ने एक नई पहल की शुरुआत की है। इसके तहत दिल्ली पुलिस अब एक तो गैंगस्टर्स के सोशल मीडिया अकाउंट पर नजर रखेगी और उन्हे ब्लॉक करवाएगी। साथ ही जब भी गैंगस्टर्स या फिर उनके गुर्गे पकड़े जाएंगे तो न तो गैंगस्टर्स के नाम सामने आएंगे और न ही उनके गुर्गों के। यानि बदनाम हुआ तो क्या, नाम तो हुआ वाली इस कहावत को दिल्ली पुलिस ने अब शायद अच्छे से समझ लिया है। इसलिए डर के नाम पर चलने वाले गैंगस्टर्स के धंधे पर पुलिस सीधा चोट करना चाहती है। दरअसल स्पेशल सेल की टीम ने पिछले पांच दिनों में गैंगस्टर्स के खिलाफ पांच अलग-अलग ऑपरेशन चलाया है। इसके लिए स्पेशल सेल ने अलग-अलग टीमें बनाई हैं।

इन पांच ऑपरेशनों के जरिए पुलिस ने कुल 15 गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया है। इनमें से पांच ऐसे हैं, जो नए रिक्रूट हैं। यानी इन पांच के खिलाफ अब तक कोई मामला कहीं भी दर्ज नहीं है। पांचों गैंगस्टर के सोशल मीडिया अकाउंट्स को देखकर पता चला कि अय्याशी से जी रही गुंडों की जिंदगी को देखकर वे भी जुर्म के रास्ते पर चल पड़े थे। पहला अपराध कब और कहां करना है, यह भी इन्हें बता दिया गया था, लेकिन इसके पहले कि वह जुर्म के रास्ते पर आगे बढ़ते पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया।

पुलिस का पहला ऑपरेशन जालंधर पंजाब में चला। पुलिस की टीम ने वहां से एक लेडी डॉन और उसके साथी को गिरफ्तार किया। इन दोनों से पूछताछ के दौरान पुलिस को पता लगा कि उन्होंने विदेश में बैठे एक गैंगस्टर के लिए तीन नए लड़कों को रिक्रूट किया है। 1 जून को चले इस ऑपरेशन में दिल्ली पुलिस ने कश्मीरी गेट के पास से तीन 19 साल के लड़कों को गिरफ्तार किया, जिनके पास से पुलिस ने पिस्तौल और गोलियां भी बरामद की। इन तीनों के खिलाफ फिलहाल कोई मामला दर्ज नहीं था, लेकिन इनको टारगेट फिक्स कर दिए गए थे। इनमें से किसी को कत्ल करना था तो किसी को जबरन उगाही के लिए किसी व्यापारी को डराने के लिए गोली चलानी थी।

दूसरा ऑपरेशन 19 और 20 जून को चला। इस ऑपरेशन के तहत दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने छावला इलाके से एक शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया जो कि शूटर है। दिल्ली के छावला से गिरफ्तार इस शूटर के खिलाफ हत्या, हत्या की कोशिश जैसे मामले दर्ज हैं। पुलिस के मुताबिक फरीदाबाद में एक हत्या में भी यह वांटेड में था।

 

स्पेशल सेल का तीसरा और चौथा ऑपरेशन

तीसरा ऑपरेशन 21 जून की रात चलाई गई। इस दौरान पुलिस ने कुल 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया। यह अलग-अलग बैंक से जुड़े हुए हैं। इनमें से एक को छोड़कर बाकी चार का आपराधिक रिकॉर्ड है। इनके पास से पुलिस ने पिस्तौल और गोलियां भी बरामद की है। चौथे ऑपरेशन के तहत दिल्ली पुलिस ने फरीदाबाद से एक शूटर को गिरफ्तार किया है। इसने फतेहपुर बेरी में क्लब ओनर पर गोली चलाई थी।

 

स्पेशल सेल का पांचवा ऑपरेशन

पांचवा ऑपरेशन 21 जून को किया गया और इस दौरान भी पुलिस ने अलग-अलग गैंगस्टर से जुड़े शूटरों को गिरफ्तार कर उनके पास से पिस्तौल बारामद करने का काम किया है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि यह सभी बदमाश किसी न किसी गैंग से जुड़े हुए थे और जल्द ही बड़े वारदातों को अंजाम देने वाले थे। दरअसल पिछले 1 महीने में जिस तरीके से खासतौर से पश्चिमी दिल्ली में आपराधिक वारदातें हुई है, उसको देखते हुए दिल्ली पुलिस ने इन पांच ऑपरेशन को अंजाम दिया। साथ ही साथ जिस तरीके से गैंगस्टर के ग्लैमराइज कर देने वाले लाइफस्टाइल को देखकर जो युवा उनके गैंग से जुड़े थे उस पर भी लगाम लगाने की कोशिश की है।

 

RAGA NEWS ZONE Join Channel Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *